ALL संपादकीय देश विदेश राजनीति अपराध विचार मध्यप्रदेश इंदौर
दिल्ली हिंसाः ताहिर हुसैन को लेकर सवाल, केजरीवाल बोले- मेरे पार्टी का नेता दोषी साबित तो दें दोगुनी सजा
February 27, 2020 • JAWABDEHI • देश

नई दिल्ली । दिल्ली के चांदबाग इलाके से हिंसा के विडियो में आम आदमी पार्टी (आप) के पार्षद ताहिर हुसैन के दिखने के बाद से केजरीवाल सरकार पर चौतरफा हमला हो रहा है। पहले तो पार्टी ताहिर का बचाव करती दिख रही थी, वहीं अब शाम होते-होते सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अगर हिंसा में उनकी पार्टी का कोई नजर आया है तो उसपर दोगुनी कार्रवाई होनी चाहिए। बता दें कि ताहिर की छत से जांच के दौरान पेट्रोल बम, पत्थर और गुलेल बरामद हुए हैं। हालांकि, ताहिर ने खुद को बेकसूर बताते हुए कहा है कि कुछ लोग जबरन उसके छत पर चढ़ गए थे और उसने पुलिस को मदद के लिए बुलाया था।

मेरी पार्टी का दोषी, तो दें दोगुनी सजा
सीएम केजरीवाल ने दिल्ली हिंसा पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की और पीड़ितों के लिए मुआवजे की घोषणा की। इस दौरान उन्होंने ताहिर के संबंध में पूछे जाने पर पत्रकारों से कहा, 'अगर कोई भी व्यक्ति दोषी पाया जाता है तो उसे कड़ी सजा दी जानी चाहिए। अगर आम आदमी पार्टी का कोई दोषी पाया जाता है तो उसे दोगुनी सजा दी जाए। राष्ट्रीय सुरक्षा के मसले पर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए।'

 

क्या है पूरा मामला
बुधवार रात सोशल मीडिया एक विडियो तेजी से वायरल हुआ जिसमें आप के स्थानीय पार्षद ताहिर हुसैन अपनी छत पर दंगाइयों के साथ हाथ में डंडा लिए दिखे। छत से लोग पेट्रोल बम और पत्थर फेंक रहे थे। यह विडियो सामने के घर से कुछ लोगों ने बनाया था। विडियो में बैकग्राउंड से आवाजें आ रही थीं, जिसमें कुछ लोग यह कहते सुने जा रहे थे कि 'देखों ताहिर कैसे लड़कों को बुलाकर पत्थर जमाकर करवा रहा है, ताकि रात को ऊपर से फेंका जा सके।'

विडियो में पीछे से मारपीट की आवाजें आ रही हैं और धुआं निकलता भी दिख रहा है। उधर, ताहिर पर आईबी स्टाफ अंकित शर्मा की हत्या में शामिल होने के आरोप भी लगाए गए हैं। यह विडियो बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने भी शेयर किया और ताहिर की भूमिका पर सवाल उठाए थे। वहीं, पूर्वी दिल्ली से बीजेपी सांसद गौतम गंभीर ने कहा कि अगर विडियो में दिख रही चीजें सच हैं तो ताहिर को कोई माफ नहीं करेगा।

कपिल मुझे फंसा रहा...
बता दें कि ताहिर हुसैन ने दंगे में किसी तरह की संलिप्तता से इनकार करते हुए कहा कि उसे फंसाया जा रहा है। उसने कहा, ' मैं बिल्कुल निर्दोष हूं। घर की छत पर जो पेट्रोल बरामद हुआ है उसके बारे में मुझे जानकारी नहीं है। तलाशी के वक्त वहां कुछ नहीं था। जब हिंसा हो रही थी तब मैंने 6 बार 100 नंबर पर फोन किया, बहुत देर तक फोन नहीं उठा। मैंने संजय सिंह से भी मदद मांगी थी। दंगा भड़काने वाले अंकित शर्मा की हत्या के जिम्मेदार हैं, मुझे फंसाया जा रहा है। ये कपिल मिश्रा की साजिश है।' ताहिर ने दावा किया कि पुलिस की मौजूदगी में 24 फरवरी को वह घर से निकला। ताहिर ने कहा कि मैं हर तरह की जांच के लिए तैयार हूं।