ALL संपादकीय देश विदेश राजनीति अपराध विचार मध्यप्रदेश इंदौर
ग्वालियर में छात्रों की बेमियादी भूख हड़ताल, जनरल प्रमोशन के लिए
June 11, 2020 • JAWABDEHI • देश

ग्वालियर। कोरोना के हालात में शासन द्वारा कराई जा रही परीक्षाओं का चौतरफा विरोध शुरु हो गया है, वहीं कांग्रेस तो शासन के इस नियम के खिलाफ खुलकर खड़ी हो गई है। उधर स्कूली और कॉलेज छात्रों का जमकर समर्थन कर रही है, जिसके चलते छात्रों ने कांग्रेस दफ्तर पर बेमियादी भूख हड़ताल शुरु कर दी गई है।

इन छात्रों का कहना है कि वह तब तक अनशन खत्म नहीं करेंगे, जब तक कि मांगे पूरी नहीं हो जातीं। छात्रों का कहना है कि प्रदेश सरकार उनके जीवन से खिलवाड़ कर रही है। शासन की संवेदनाएं शून्य हो चुकी हैं। जब पूरे भारत में केवल 500 कोरोना मरीज थे, तब लॉकडाउन किया गया आज भारत में 2 लाख 60 हजार मरीज है, मप्र में 10 हजार कोरोना मरीज है, ग्वालियर में 219 के आसपास कोरोना मरीज है, इस गंभीर समय में भाजपा प्रदेश सरकार छात्रो को जनरल प्रमोशन देने की बजाय छात्रों को जबरदस्ती परिक्षा कराकर उन्हें कोरोना महामारी की और ढकेल रही है, परिक्षा के दौरान 2 गज की दूरी होना आवश्यक है, इसकी चिंता किए बिना सरकार छात्रो के जीवन के साथ खिलवाड़ कर रही है। 

अनिश्चित कालीन भूख हड़ताल पर बैठे छात्रो के बीच विधायक प्रवीण पाठक, प्रदेश महासचिव अशोक शर्मा, पूर्व पार्षद रवि भदोरिया, युवा कंाग्रेस अध्यक्ष हेवरन कंसाना, ब्लॉक अध्यक्ष राजेश बाबू, संतोष शर्मा, अख्तर हुसैन कुर्रेशी, सेवादल के पूर्व अध्यक्ष हमीद खां उस्मानी, मुनेन्द्र भदोरिया, संजीव दीक्षित, अभिषेक शर्मा, अभिषेक उपध्याय, अजीत गोस्वामी आदि भी पहुंचे।